अंतहीन / Endless

कभी स्याही खत्म हो जाती थीअब उँगलियाँ थक जाती हैंपर दास्ताने-मुहब्बत इतनी लंबी हैंकि कभी खत्म ही नहीं होती… 🥀🥀🥀🥀🥀🥀 Once the ink used to run …

अंतहीन / Endless

One thought on “अंतहीन / Endless”

Comments are closed.